Sun. May 26th, 2024

[ad_1]

खरगोन43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

विश्व सिकलसेल दिवस के अवसर पर स्वास्थ्य विभाग सोमवार को जिला स्तर पर सिकलसेल को लेकर शिविरों का आयोजन करेगा। जिसमें खून की कमी की जांच के साथ सिकलसेल एनीमिया की रिपोर्ट तैयार की जाएगी।

जिला स्तर आयोजन के साथ साथ सिकलसेल की जांच के लिए यह आयोजन प्रत्येक विकासखंड पर भी किया जाना है। सीएमएचओ दौलत सिंह चौहान ने बताया कि शासन के निर्देशों के अनुरूप आम लोगों को सिकलसेल के प्रति जागरूक करने और सिकलसेल के मरीजों की जानकारी एकत्र करने के लिए प्रत्येक विकासखंड स्तर पर वृहद जांच एवं जागरूकता शिविर का आयोजन सोमवार को किया जाएगा।

जिला स्तर पर आयोजित शिविर में सिकलसेल कंफरमेशन जांच की जाएगी एवं साथ ही सिकलसेल से बचाव के लिए परामर्श भी दिया जाएगा। इस दौरान दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाये जाएंगे। ऐसे में इस आयोजन में दिव्यांगजन भी अपनी उपस्तिथि देकर शिविर का लाभ ले सकते हैं। सिकलसेल के लिए आयोजन के लिए कर्मचारियों को निर्देशित करते हुए बताया कि शिविर में जांच किये गये मरीजों की रिपोर्टिंग सिकल सेल एप पर करें ,जबकि समस्त विकासखण्डों से सोल्यूबिलीटी टेस्ट में पाए गए पॉजिटिव व्यक्तियों का सैंपल कंफरमेशन के लिए इलेक्ट्रोफोरोसिस मशीन से जांच के लिए जिला चिकित्सालय भिजवाए। सिकलसेल रोगी, जिन्हें ब्लड ट्रांसफ्यूजन किया जा रहा है, ऐसे सभी रोगियों का दिव्यांग प्रमाण पत्र भी बनाने के निर्देश भी दिए।वहीं समस्त गर्भवती महिलाओं का सिकलसेल स्क्रीनिंग अनिवार्य रूप से किया जाएगा।

सिकलसेल प्रभावित विकासखंडों पर रखेंगे नजर

जिले में सिकलसेल से प्रभावित विकासखण्ड झिरन्या, भगवानपुरा, सेगांव, भीकनगांव, खरगोन, महेश्वर, बड़वाह एवं कसरावद है। जिले भर में 16 जून तक कुल 52 हजार 2 सौ 98 व्यक्तियों की जांच अंतर्गत 3 हजार 1 सौ 97 पाजीटिव मरीज पाए गए। जिले के समस्त विकासखंडों में सोल्यूबिलीटी टेस्ट किट से जांच की जाएगी। पॉजिटिव कंफरमेशन की जिला चिकित्सालय में इलेक्ट्रोफोरोसिस मशीन द्वारा जांच की जा रही है।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *