Tue. May 28th, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • As Soon As The Information Was Received, The Police Along With The Doctor Reached The Spot, Preparing For The Movement Regarding The Incident

जबलपुर33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जबलपुर की जिला अस्पताल में तैनात एक डॉक्टर को जान से मारने की धमकी देते हुए पिस्टल तान देने का मामला सामने आया है। घटना शनिवार की शाम की है जब हथियारों से लैश चार से पांच लोग इमरजेंसी वार्ड में पहुंचे और डॉक्टर को धमकी देते हुए उनके सिर पर पिस्टल तान दी। घटना के बाद से जिला अस्पताल में हड़कंप मचा हुआ है, घटना की सूचना मिलने के बाद सिविल सर्जन और CMHO सहित ओमती थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है और जिला अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल कर आरोपियों की तलाश में जुट गई है। घटना के बाद से डॉक्टरों में खासा आक्रोश पनप रहा है, डॉक्टरों ने आज हुई घटना की निंदा की है साथ ही आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग भी की है।

जानकारी के मुताबिक डा. भरत दुबे आज दोपहर को जब जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड पर ड्यूटी कर रहें थे तभी कुछ लोग उनके पास पहुंचे और विवाद करते हुए धमकाने लगे, डाक्टर भरत दुबे ने बताया कि मैंने बाहर से आए युवकों की धमकी को सामान्य माना और अपने काम में लग गया, डा. को धमकाने वाले चार से पांच युवक रात को सात से आठ बजे फिर से जिला अस्पताल पहुंचे और डा. भरत दुबे पर पिस्टल तानते हुए उन्हें जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए। डा. भरत दुबे ने घटना की जानकारी सिविल सर्जन और cmho डा. संजय मिश्रा को भी दी है।

डॉक्टर भरत दुबे को कुछ लोगों ने जान से मारने की धमकी दी है यह सूचना जब अन्य डाक्टरों को लगी तो सभी लोग मौके पर पहुंचे और डॉक्टर के साथ हुई इस घटना को गंभीर अपराध माना। सूचना मिलने के बाद ओमती थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। डॉक्टरों का कहना है कि जिला अस्पताल में आकर इस तरह से घटना को अंजाम देना बहुत गलत है। पुलिस को इस मामले में कार्यवाही करनी चाहिए।

बताया जा रहा है कि जो कुछ दिनों पहले आरोपियों के परिवार वाले का एक व्यक्ति भर्ती था जिसकी मौत हों गई थी, उस समय डॉक्टर भरत दुबे ड्यूटी पर थे। संभवतः इसी घटना को लेकर यह पूरा घटनाक्रम हुआ है। हालांकि पुलिस अभी इस मामले में सिर्फ जांच कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कर रहीं है।

ओमती थाने में पदस्थ एसआई बीडी द्विवेदी का कहना है कि जिला अस्पताल में पदस्थ डाक्टरों की शिकायत मिली है जिसकी जांच की जा रही है इसके अलावा इमरजेंसी वार्ड में लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। हालांकि डॉक्टर की तरफ से अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। बहरहाल पुलिस अब इस पूरे घटनाक्रम की जांच में जुटी हुई है

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *