Sun. May 26th, 2024

[ad_1]

इंदौरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर, अहिंसा पथ प्रदर्शक भगवान महावीर की 2622वीं जन्म जयंती की पूर्व बेला पर रविवार को समग्र जैन समाज द्वारा अहिंसा रैली निकाली गई। ‘सत्य अहिंसा प्यारा है, यही हमारा नारा है’ जैसे उदघोषों के साथ दादा रतन पाटोदी चौराहा (सुपर कारिडोर चौराहा) से प्रारंभ हुई अहिंसा रैली कई हिस्सों में घूमने के बाद राजबाडा पर समाप्त हुई।

सुपर कॉरिडोर से शुरू हुई रैली

सुपर कॉरिडोर से शुरू हुई रैली

जैन समाज सामाजिक संसद के प्रवक्ता मनीष अजमेरा व युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष महावीर जैन ने बताया कि सावन सोनकर, अशोक पाटनी, नरेंद्र वेद, भरत मोदी, संदीप दुबे, स्वप्निल कोठारी, जेके जैन, कैलाश वेद, संजय दुबे आदि ने हरी झण्डी दिखाकर रैली प्रारंभ की। नकुल पाटोदी व पिंकेश टोंग्या के संयोजन में निकली रैली कालानी नगर, बड़ा गणपति, गोराकुण्ड, राजबाडा से होती हुई गांधी प्रतिमा पर पहुंची। यहां समापन पर अध्यक्ष नरेंद्र वेद, प्रमुख उपस्थिति में नकुल पाटोदी ने श्रमण संस्कृति की रक्षा करने, तीर्थो को पर्यटन स्थल घोषित किए जाने के विरोध, मंदिर निर्माण के साथ ही शिक्षा व चिकित्सा क्षेत्र में कार्य, गौत्र के साथ जैन शब्द लगाए जाने हेतु जन जागृति आदि की शपथ दिलाई। साथ ही महावीर जयंती जुलूस के स्वर्ण रथ सारथी नवीन गोधा का सम्मान किया गया।

बावड़ी दुर्घटना में मृत लोगों को दी श्रद्धांजलि

इस अवसर पर टीनू जैन, मनोज काला, मुकेश टोंग्या, सौरभ पाटोदी, संजय पाटोदी, राजेश नीता जैन, अनामिका बाकलीवाल, रोहित गंगवाल, मनीष जैन, गौरव पाटोदी, सुयश बाकलीवाल, नीरज जैन, जुंबिश अजमेरा, हर्ष गोधा, निलेश छाबड़ा, मनीष पोरवाल, अजय जैन सहित बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे। शपथ के बाद गांधी प्रतिमा के समक्ष बावड़ी दुर्घटना में मृत 36 लोगों के लिए दो मिनिट का मौन रख कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। सभा का संचालन मनीष अजमेरा ने किया।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *