Fri. Jun 21st, 2024

[ad_1]

इंदौर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

“शिवराजजी 18 साल से हैं और चुनाव के पहले अगर कोई योजना ला रहे हैं तो ये अपने आप में दिखाता है कि योजना कितनी खोखली है। शिवराजजी के वादों पर कोई विश्वास नहीं करता। वो मुंह ज्यादा चलाते हैं लेकिन उस तेजी से सरकार नहीं चलाते। मैं समझती हूं उन पर कोई विश्वास नहीं करता है।”

सरकार की लाड़ली बहना योजना को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में ये बात कांग्रेस नेत्री शोभा ओझा ने कही। रविवार को इंदौर में उन्होंने एक होटल में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस के वचन पत्र को तैयार करने के संबंध में कांग्रेस नेताओं बैठक ली। प्रदेश कांग्रेस कमेटी वचन पत्र समिति की सदस्य और इंदौर के वचन पत्र के लिए प्रदेश कांग्रेस की ओर से प्रभारी बनाई गई हैं। विधानसभा चुनाव को दृष्टिगत रखते हुए मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी ने यह निर्णय लिया है कि वह अपने मुख्य वचन पत्र के साथ ही प्रत्येक जिले का वचन पत्र भी घोषित करेगी।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी वचन पत्र समिति की सदस्य शोभा ओझा बैठक में संबोधित करते हुए।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी वचन पत्र समिति की सदस्य शोभा ओझा बैठक में संबोधित करते हुए।

उन्होंने कहा कि “मध्यप्रदेश का वचन पत्र कांग्रेस पार्टी बना रही है। कांग्रेस चाहती है कि जिलेवार वचन पत्र बनें, क्योंकि हर जिले की समस्या अलग है, हर जिले के मुद्दे अलग हैं। इंदौर मध्यप्रदेश का ह्रदय स्थल है। यहां इंडस्ट्री भी है। एजुकेशन सेक्टर भी है। हेल्थ की ओर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। उसी की तैयारी के लिए बैठक बुलाई गई थी। हेल्थ, शिक्षा, बेरोजगारी एक बहुत बड़ा मुद्दा है। महिलाओं के लिए भी रोजगार से जोड़ने की बात है। इस पर चर्चा हुई है।”

युवाओं के लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि “कांग्रेस जब सोचती है जब हर वर्ग के लिए सोचती है। नया वोटर है, इंदौर में आज 5 लाख बच्चे आसपास के पढ़ रहे हैं। उनके लिए भी कांग्रेस सोच रही है। वचन पत्र जल्द ही आएगा। कमलनाथजी ने कई घोषणाएं की है। जैसे 500 रुपए में सिलेंडर, 18 हजार रुपए साल महिलाओं के खाते में डाले जाएंगे। हमारा कोई घोषणा पत्र नहीं है। हम वचन दे रहे हैं। पिछली बार की तरह इस बार भी जो हम वचन दे रहे हैं। उस पर खरे उतरेंगे”

अन्य दलों के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि “मध्यप्रदेश में दो पार्टी सिस्टम यहां रहा है। पहले भी गोंडवाना, सपा, बीएसपी तमाम पार्टी ने चुनाव लड़े हैं लेकिन लोगों की यहां सोच है कि वो एक मुख्य धारा की पार्टी के साथ जाते है। रीजनल पार्टी पर उनका झुकाव नहीं रहता है। कमलनाथजी पर लोगों का विश्वास है। प्रदेश की जनता कांग्रेस की सरकार लाएगी।”

बैठक में किसने क्या सुझाव आए

शोभा ओझा ने कहा कि इंदौर जिले का वचन पत्र ऐसा बने की हर व्यक्ति को हम छू सके। वचन पत्र बहुत ही जल्दी आ जाएगा, प्रतियाशी घोषित होने के पहले वचन पर घोषित हो जाएगा, मोटी बुकलेट नहीं आएगी, बिंदुवार आएगा।

महिला शहर कांग्रेस अध्यक्ष साक्षी शुक्ला ने महिला सुरक्षा कानून और महिलाओं के लिए बिजनेस प्लेटफार्म बनाने की बात कही। पूर्व विधायक अंतर सिंह दरबार ने कहा कि घोषणा पत्र जल्दी लागए तो अच्छा रहेगा। घोषणा पत्र अधिक संख्या में छपवाया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने पर जोर दिया।

पार्षद राजू भदौरिया ने अवैध कॉलोनी के नियमितीकरण का मुद्दा उठाया और कहा कि उन्हें वैध करने, संजीवनी क्लिनिक व्यवस्थित किए जाए। स्पोर्ट्स हब होना चाहिए। सांवेर विधानसभा से दावेदारी कर रही रीना बौरासी ने समर्थन मूल्य 3 हजार करने और मंडी में भी नीलामी इसी रेट पर करने का सुझाव दिया और बिजली बिल का मुद्दा उठाया।

स्वप्निल कोठारी ने कहा कि यूथ को कनेक्ट करने के लिए फ्री वाई फाई जोन, ऑनलाईन फ्री लायब्रेरी को वचन पत्र में शामिल किया जाए। सच सलूजा ने कहा कि नाईट कल्चर के कारण हमारे शहर की संस्कृति बिगड़ रही है।

पंडितजी ने जता दी नाराजगी, जो चापलूसी करेंगे क्या वो ही राहुलजी से मिलेंगे

अध्यक्षता कर रहे पंडित कृपा शंकर शुक्ला ने माइक संभालने के बाद अपने उद्बोधन में नाराजगी भी जाहिर की। उन्होंने कहा कि हमारे विधायक लोग नहीं आए हैं। संजय शुक्ला यात्रा पर गए हैं लेकिन बाकी को आना चाहिए था। राहुल गांधी की पदयात्रा को लेकर भी उन्होंने कहा कि पार्षदों को उनसे मिलने का मौका ही नहीं दिया गया।

राहुल गांधी, कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन से निकले लेकिन हमारे मंदिर (गांधी भवन पार्टी कार्यालय) नहीं जा पाए, जो उनके आसपास घूम रहे थे ये उनकी गलती है। उन्होंने नहीं बताया। हम से नहीं मिले। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष जो हैं, उनसे मुलाकात करनी चाहिए थी। जो चापलूसी करेंगे वो मिलेंगे क्या?

इस दौरान नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष चिंटू चौकसे ने उन्हें टोकते हुए कहा कि पार्षदों को राहुल गांधी से मिलवाने के लिए मैंने शोभा दीदी से कई बार संपर्क किया था। इस पर बैठक में मौजूद महिला पार्षदों ने कहा कि रहने दीजिए, अब आप सफाई मत दीजिए।

बैठक में मौजूद कांग्रेस के नेता।

बैठक में मौजूद कांग्रेस के नेता।

ये रहे मौजूद

बैठक पूर्व नेता प्रतिपक्ष सुरेश मिंडा, राजेश चौकसे, अरविंद बागड़ी, प्रेम खड़ायता, प्रमोद द्विवेदी, देवेंद्र सिंह यादव, सोनिला मिमरोट, मुकेश यादव, केके यादव, रमीज खान, दीपू यादव, अंसाफ अंसारी, धर्मेंद्र मौर्य, अनवर दस्तक, रफीक खान, आनंद कासलीवाल, बादशाह मिमरोट, अमित चौरसिया, अखिलेश जैन गोपी, अमरदीप सिलावट, विनीता धर्मेंद्र मौर्य, सीमा सोलंकी, अमित पटेल, राजा चौकसे, मधुसूदन भलिका, गोपाल यादव, वीरेंद्र गुप्ता, सैफू वर्मा आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *