Sun. Jun 23rd, 2024

[ad_1]

इंदौर19 मिनट पहलेलेखक: अभिषेक दुबे

  • कॉपी लिंक

जीतू ही जीतेंगे, 100 पर्सेंट..।

इंदौर में आए हुए पंडोखर सरकार ने यह कहकर इंदौर की राऊ विधानसभा सीट की सियासत गर्मा दी है। उन्होंने न जीतू के आगे पटवारी लगाया, और न ही जिराती। यही वजह है कि जीतू पटवारी और जीतू जिराती दोनों के समर्थक इसे अपनी जीत मानने लग गए हैं। हालांकि, पंडोखर सरकार ने यह ऐलान पटवारी समर्थक के सवाल पर किया था। उनकी अर्जी के जवाब में पंडोखर सरकार ने दावा किया कि जीतू भैय्या चुनाव में विजयी होंगे, विजयी होंगे। डबल मार्जिन से। 101 परसेंट विजयी होंगे। और अभी से मेहनत करेंगे तो 40 हजार से ज्यादा मार्जिन से विजयी होंगे।

अब पॉलिटिक्स और दावों से पहले पंडोखर सरकार को जान लीजिए

पंडोखर सरकार के इस जीत के दावे के बाद पटवारी के समर्थक कह रहे हैं कि यह दावा उनके नेता के लिए है। जबकि पूर्व विधायक जीतू जिराती के समर्थक भी इसमें कूद गए हैं।

इन समर्थकों का दावा है कि पंडोखर सरकार ने जीतू जिराती के लिए ही जीत का दावा किया है। समर्थकों के दावे को खुद जिराती ने ये कहकर हवा दे दी कि वे भी इस बार राऊ से ही चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। यदि पार्टी टिकट दे तो उनकी पूरी तैयारी है। हालांकि, जिराती यहां से विधायक रह चुके हैं और युवा मोर्चा में बड़े पद पर रहे हैं।

पंडोखर सरकार के दिव्य दरबार में उठे सवाल के बारे में जान लीजिए

राऊ में रविवार को पंडोखर सरकार का दिव्य दरबार लगा था जिसमें शिव सिटी राऊ में रहने वाले कैलाश पंचोली अपनी पर्ची लेकर पंडोखर सरकार के पास गए। जहां पर सरकार ने कहा बताओ क्या जानना चाहते हो इस पर पंचोली ने कहा कि बस जीतू भैय्या जीत जाएं।

पंचोली के यह पूछने पर बाबा ने कहा कि जीतू विधानसभा में विजय होंगे 101 परसेंट होंगे। विजय होंगे, विजय होंगे डबल मार्जिन से विजय होंगे लेकिन अभी से मेहनत कर लें तो 40 हजार से विजय होंगे। इसके बाद पंडोखर सरकार ने सवाल पूछने वाले पंचोली को लेटर लिखकर दे दिया और कहा कि यह लेमिनेशन कराकर गले में लटका लेना, चुनाव में रिजल्ट देख लेना।

दैनिक भास्कर के सवाल पर पंचोली बोले मैंने तो जीतू पटवारी के लिए सवाल पूछा था। मैं पटवारी के साथ पिछले 10 साल से जुड़ा हुआ हूं। बता दें कि पंडोखर सरकार के जीत के दावे के दौरान जीतू पटवारी मंच के नीचे ही बैठे हुए थे और वह यह भविष्यवाणी सुनकर मुस्कुराने लगे थे।

अब सवाल यह हो रहा है कि पंडोखर सरकार ने किस जीतू के लिए भविष्यवाणी कर दी है, यह जवाब नहीं मिला है। इससे लोकल पॉलिटिक्स जमकर गर्माई हुई है।

पंडोखर सरकार के साथ जीतू पटवारी।

पंडोखर सरकार के साथ जीतू पटवारी।

समर्थकों का कहना जिराती के जीत के दावे करके गए है पंडोखर सरकार

जिराती समर्थकों का दावा है कि पंडोखर सरकार ने जो दावा किया है उसमें यह कहीं नहीं कहा की चुनाव जीतू पटवारी जितेंगे। दूसरी ओर पटवारी समर्थकों का दावा है कि सवाल हमने पूछा तो उन्होंने हमारे ही नेता को जीत का आशीर्वाद दिया है। इस बीच जीतू जिराती ने कहा कि मैं चुनाव की तैयारी कर रहा हूं। पार्टी अगर मौका देगी तो राऊ से 100 प्रतिशत चुनाव लडुंगा और जीतूंगा।

पटवारी ने उठाई साइकिल, जिराती संगठन मजबूत करने में जुटे

जीतू पटवारी ने पिछला चुनाव 5 हजार 703 वोटों से जीता था। इससे पहले का चुनाव वह 18 हजार 559 वोट से जीते थे। दूसरी ओर जीतू जिराती क्षेत्र में पूरे पांच से सक्रिय होकर संगठन का काम कर अपनी जमीन मजबूत कर रहे हैं। नगर निगम चुनाव में भी राऊ के शहरी इलाके से बीजेपी को बढ़त मिली थी।

जिराती लगातार जनता के बीच जाकर सक्रियता बढ़ा रहे हैं। वहीं अपनी जमीन मजबूत करने के लिए समर्थकों के साथ संगठन को भी मजबूत करने में जुटे हैं। दूसरी ओर इनके प्रतिद्वंद्वी और वर्तमान विधायक जीतू पटवारी अपने क्षेत्र का दौरा साईकिल से करना शुरू कर दिया है।

वह अलसुबह अपने क्षेत्र के लोगों से मिलने साइकिल से निकल पड़ते हैं। बताया जा रहा है कि जीतू पटवारी पिछले 5 से 6 दिन से रोजाना साइकिल से विधानसभा का चक्कर लगाकर लोगों से मिल रहे हैं।

यह तस्वीर तीन साल पहले की। जब दोनों के बीच जुबानी जंग अपशब्दों तक पहुंच गई थी। तब जीतू पटवारी से मिलने पहुंचे जिराती को पटवारी ने गले लगाया और मुंह मीठा करवाया। जिराती ने कहा राजनीति में मूल्यों की गिरावट देखने काे मिल रही है। जिस प्रकार से शब्दों और भाषाओं का प्रयोग किया जा रहा है। यह समाज में सही संदेश नहीं है। इस दौरान दोनों ने एक-दूसरे को दोस्त बताया था।

यह तस्वीर तीन साल पहले की। जब दोनों के बीच जुबानी जंग अपशब्दों तक पहुंच गई थी। तब जीतू पटवारी से मिलने पहुंचे जिराती को पटवारी ने गले लगाया और मुंह मीठा करवाया। जिराती ने कहा राजनीति में मूल्यों की गिरावट देखने काे मिल रही है। जिस प्रकार से शब्दों और भाषाओं का प्रयोग किया जा रहा है। यह समाज में सही संदेश नहीं है। इस दौरान दोनों ने एक-दूसरे को दोस्त बताया था।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *