Sun. Jun 23rd, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Dhar
  • 350 People Gathered To Beautify The Ancient Stepwell, 3 Trolley Garbage Removed In Two And A Half Hours, Machine Called To Remove Silt

धारएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

शहर की प्राचीन कुएं-बावड़ियाें की दशा सुधारने के लिए धार्मिक व सामाजिक संगठनाें के साथ पर्यावरण प्रेमी आगे आए है। रविवार सुबह 7 बजे शहरवासियाें समेत 350 लाेग लालबाग स्थित प्राचीन बावड़ी की सफाई में जुटे। घास-फूस, प्लास्टिक का कचरा बाहर हुआ तो ढाई घंटे में ऐतिहासिक बावड़ी निखर उठी। कसरावद से गाद निकलवाने के लिए मशीन भी बुलवाई है। जाे शनिवार तक इसमें से जितनी भी गाद निकलेगी उसे बाहर निकाला जाएगा। जिसके बाद इसमें पानी की आवक शुरू हाेने की संभावना है।

इस बावड़ी के बाद अब अगले रविवार काे बंदीछाेड़ बाबा की समाधि के सामने बनी प्राचीन बावड़ी की सफाई की जाएगी। दरअसल राजा भोज के समय से धार शहर काे साढ़े 12 तालाबों की नगरी कहा जाता है। जल स्तोत्रों के संरक्षण का संकल्प लेकर धार्मिक व सामाजिक संगठनों ने स्वच्छ जलधारा अभियान शुरू किया है। समिति के राहुल अग्रवाल, जसप्रीत सिंह ने बताया महज एक आह्वान पर सुबह सैकड़ो सामाजिक कार्यकर्ता, शहरवासियाें ने लालबाग की बावड़ी में श्रमदान किया।

नागरिकों का उत्साह इस कदर था कि कई वर्षों से कचरे से पटी 30 से 35 फीट गहरी बावड़ी चंद घंटों में कचरा मुक्त हो गई। अब इसकी गाद निकलवाने के लिए कसरावद से मशीन भी बुलवाई है। जिससे यह बावड़ी पुनर्जीवित हाेगी और लाेग पानी का उपयाेग कर सकेंगे। अभियान में पर्यावरण संरक्षण गतिविधि, आओ सहजे धरा, भू माई फाउंडेशन, भारत विकास परिषद, रोटरी क्लब, लायंस क्लब, टैक्स बार एसोसिएशन, संस्कार भारती, सेवा भारती, पतंजलि योग पीठ, प्रजना समाज सेवा समिति, भाजपा धार नगर, कांग्रेस, नगर पालिका, अग्रवाल समाज, ब्राह्मण समाज, नीमा समाज, जैन समाज, मराठा समाज, सिख समाज, वाल्मीकि समाज, यादव समाज, माली समाज, रजक समाज समेत वैश्य महासम्मेलन ने भी सहभागिता की।
यह अभियान किसी संस्था का नहीं, समाज का है : अग्रवाल
समिति के राहुल अग्रवाल ने बताया यह अभियान शहर हित में सभी समाजिक-धार्मिक संगठन एवं सभी समाज प्रमुख के साथ मिलकर शुरू किया है। जिसका नाम भी आम समाज द्वारा ही तय किया है। यह किसी संस्था या राजनीतिक पार्टी द्वारा आयाेजित नहीं है। आमजन के विचाराें पर ही अभियान शुरू कर इसे धीरे-धीरे आगे बढ़ाएंगे।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *