Thu. Jun 13th, 2024

[ad_1]

निवाड़ी32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पूर्व राज्यपाल रामनरेश यादव की पौत्र वधु और भाजपा नेत्री रोशनी यादव की पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की फोटो इन दिनों सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। ऐसे में उनके इस दावे को बल मिल गया है कि परिस्थिति चाहे कुछ भी हो वह निवाड़ी विधानसभा से चुनाव लड़ेंगी। गौरतलब है कि इससे पूर्व रोशनी यादव ने खुले तौर पर चुनौती दी थी कि वो जनता के हितों के लिए निवाड़ी विधानसभा से चुनाव लड़ेगी।

सोशल मीडिया पर रोशनी यादव की कांग्रेस नेताओं के साथ लगातार वायरल हो रही तस्वीरों ने सियासी महकमों में हलचल पैदा कर दी है। रोशनी इसके पूर्व में भी कई बार आगाह कर चुकी है और बोल चुकी है कि जनता के हितों और उनकी सेवा के लिए उसे निर्दलीय भी चुनाव लड़ना पड़ा तो वो लड़ेगी।

कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ उनकी वायरल फोटो ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि वो निवाड़ी विधानसभा से चुनाव लड़ने को तैयार है। प्रेसवार्ता में उन्होंने खुले तौर पर ऐलान किया था कि वो जनता की आवाज पर निवाड़ी विधानसभा से चुनाव लड़ेगी। रोशनी यादव को लेकर चिंता होना इसलिए भी लाजमी है, क्योंकि जिला पंचायत चुनाव में जनता ने रोशनी यादव को जिले में सबसे बड़ी जीत दी थी।

इसके बाद अटकले लगाई जा रही थी कि अगर उन्हें भाजपा ने टिकट नहीं दिया तो वो कांग्रेस से भी चुनाव लड़ सकती है। जमीनी स्तर पर भी रोशनी यादव की अच्छी खासी छवि है। ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों में बच्चों की शिक्षा हो या अस्पताल में सुविधाओं के मुद्दे समय-समय पर उठाती आई है। इसके अलावा रोशनी में और भी कई खुबियां है, जो इन्हें हर सर्वे में टॉप पर रखती है।

कोई नेता नहीं देगा टिकट का आश्वासनयादव

निवाड़ी जिले के कांग्रेस प्रभारी दामोदर यादव ने इस मामले में साफ कह दिया है कि बाहर का कोई भी आना चाहे बस उसकी छवि जनता में खराब ना हो। अगर वह टिकट की तर्ज पर आ रहा है तो उसी दिन उसे नोटिस पकड़ा दिया जाएगा, क्योंकि यह पूरे देश में हो रहा है। उन्होंने कहा कि कोई भी नेता भाजपा से कांग्रेस में इस तर्ज पर आ रहा है कि उसे टिकट मिलेगा तो वह गलत आया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा के कुछ मठाधीश है, जो बड़े नाम है जिस पर भाजपा गर्व करती है वो भी पार्टी में आना चाहते है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर यह तय हुआ है कि जो पार्टी में आना चाहता है और उसकी छवि जनता में अच्छी है तो उसे ले लो लेकिन उन्हें टिकट का आश्वासन कोई भी नेता नहीं देगा। उन्होंने कहा कि टिकट जमीन से निकलेगा आसमान से नहीं निकलेगा क्योंकि इसका परिणाम 2018 में आ चुका है, आसमान के टिकट के चक्कर में 20-25 सीट हार गए थें।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *