Tue. May 21st, 2024

[ad_1]

ग्वालियर15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
नगर निगम में आउटसोर्स कर्मचारियों की भर्ती में हुई गड़बड़ी की जांच कर रही उच्च स्तरीय समिति को दस माह बाद भी जिम्मेदार रिकार्ड उपलब्ध नहीं करा पाए हैं। - Dainik Bhaskar

नगर निगम में आउटसोर्स कर्मचारियों की भर्ती में हुई गड़बड़ी की जांच कर रही उच्च स्तरीय समिति को दस माह बाद भी जिम्मेदार रिकार्ड उपलब्ध नहीं करा पाए हैं।

नगर निगम में आउटसोर्स कर्मचारियों की भर्ती में हुई गड़बड़ी की जांच कर रही उच्च स्तरीय समिति को दस माह बाद भी जिम्मेदार रिकार्ड उपलब्ध नहीं करा पाए हैं। बुधवार को आयोजित बैठक में समिति के सात सदस्यों में से चार ने इसे अंतिम रूप देने की अनुशंसा की, लेकिन निगम के तीन अधिकारियों ने रिकार्ड उपलब्ध कराने के लिए एक मौका और देने की मांग की। इस पर समिति की अध्यक्ष महापौर डॉ. शोभा सिकरवार ने इस मामले में निगमायुक्त को अर्द्ध शासकीय पत्र भेजकर सात दिन में रिकार्ड उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

सड़क पर गंदगी दिखने पर डब्ल्यूएचओ को हटाया
शहर की सफाई व्यवस्था को जांचने निकले निगमायुक्त हर्ष सिंह को वार्ड क्रमांक 2 एवं 3 में मुख्य मार्गों पर गंदगी मिली। साथ ही रात्रिकालीन सफाई न होने से व्यवसायिक क्षेत्र में भी गंदगी दिखाई दी। इस मामले में निगमायुक्त ने जोनल हेल्थ ऑफिसर राजकुमार को हटाया दिया। साथ ही पड़ाव वाहन डिपो से कुछ गाड़ियों के देर से निकलने पर नाराजगी भी जताई।

इसके बाद उन्होंने वार्ड क्रमांक 2 में क्षेत्रीय प्रतिनिधि सुरेंद्र चौहान के साथ निरीक्षण किया। निगमायुक्त ने सिटी सेंटर का निरीक्षण किया। यहां पर कर्मचारियों का हाजिरी रजिस्टर चेक किया। इसके बाद उन्होंने अलकापुरी में निरीक्षण किया और कर्मचारियों की हाजिरी चेक की। उरवाई गेट चौराहे के पास नाश्ता दुकान संचालक द्वारा सड़क पर अतिक्रमण करने एवं गंदगी फैलाने पर निगमायुक्त ने उस पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *