Fri. Jun 21st, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Narmadapuram
  • Brother in law Exploited By Showing Fear Of Superstition; Bhopal Student Said I Will Die Only After Getting Punishment

नर्मदापुरम/धर्मेंद्र दीवान9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

20 साल की छात्रा अपनी आपबीती दैनिक भास्कर से साझा करते हुए रो पड़ी। आधे घंटे में रुक-रुककर 9 महीने के दर्द को बयां किया। नर्मदापुरम जिला मुख्यालय से करीब 8 किलाेमीटर दूर दैनिक भास्कर की टीम बुधनी शहर के उस इलाके में पहुंची, जहां दो दिन पहले छात्रा ने अपने जीजा के खिलाफ शोषण करने का केस दर्ज कराया था। मोहल्ले में पहुंचने पर कुछ लोगों से पता पूछा। रास्ते से गुजर रहे बुजुर्ग ने इशारे में घर का रास्ता बताया। जब टीम पीड़िता के घर पहुंची, तो पड़ोसी ने बताया कि उसका पूरा परिवार बुधनी थाने गया है। हम वहां पहुंचे तो थाना परिसर में पीड़िता अपनी मां और दो छोटी बहनों के साथ बैठी मिली।

इस छात्रा ने अपने रिश्तेदार कुलदीप नाहर पर भूत-प्रेत का साया बताकर 9 महीने तक शोषण करने का आराेप लगाया है। आरोपी दूर के रिश्ते में छात्रा का जीजा लगता है। पुलिस ने आरोपी कुलदीप नाहर को गिरफ्तार कर लिया है। भोपाल की रहने वाली पीड़िता अब अपनी मां, तीन बहन और एक भाई के साथ बुधनी में रहकर गलत करने वाले के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है। उसका कहना है कि जब तक जीजा को सजा नहीं दिला देती, चैन से नहीं बैठेगी।

मां ने हिम्मत दी तो शिकायत करने थाने पहुंची

मैं भोपाल की रहने वाली हूं। बुधनी में मौसी की बेटी रहती है। पिछले साल जून में उनसे मेरी बात हुई। उन्होंने कहा कि हमारे यहां एक दरगाह घूमने लायक जगह है। तुम दो-चार दिन के लिए यहां आ जाओ। 1 जुलाई 2022 को मैं बुधनी पहुंची। यहां आने के करीब 15 दिन बाद मेरी तबीयत खराब हो गई। बार-बार बुखार आने लगा। इलाज के लिए मेरे जीजा कुलदीप और बहन मुझे तालपुरा दरगाह पर ले गए। मेरे जीजा ने कहा कि तेरे अंदर भूत-प्रेत का वास हो गया है। इसे दूर करने के लिए कुछ उपाय बताया है, जिसे जल्दी करना होगा। दरगाह से आते समय कुलदीप ने कहा कि तुझे मेरे साथ संबंध बनाने पड़ेंगे, तभी अंदर का भूत बाहर आएगा। जीजा थोड़ा-बहुत झाड़ फूंक भी करते हैं। मैं पिछले कई दिनों से बीमार चल रही थी।

लगातार इस तरह की बातें सुनते-सुनते मुझे ऐसा लगने लगा कि जीजा की बात सही है। हम घर पहुंचे। रात में जब दीदी और बाकी घरवाले सो रहे थे, तब करीब 12.30 बजे जीजा ने मेरा मुंह दबाकर उठाया। मुझे किचन में ले गए। मैं चिल्लाने लगी। खुद को छुड़ाने का प्रयास किया, लेकिन जीजा ने गलत काम किया। अगली सुबह जीजा ने धमकी दी कि किसी को बताया, तो जान से खत्म कर दूंगा। मैं चुप रही। इसके बाद तो जब दीदी घर में नहीं होती, तब-तब जीजा जबरदस्ती करते।

एक दिन मैंने उनसे बोला कि मैं सब -कुछ अपनी मां को बता दूंगी, तो उन्होंने मुझे, मेरी मां और बहनों को भूत के साए से मारने की धमकी दी। डर की वजह से मैं चुप रही। मैंने एक-दो बार मां को बताने की हिम्मत की, तो जीजा ने मेरे साथ मारपीट की। अब उनकी नजर छोटी बहनों पर थी। उन्होंने खुद मुझसे ये बात कही। यह सुनकर मैंने हिम्मत जुटाई। मैंने अपनी मां और बहनों को आपबीती बताई। मां ने हिम्मत दी। शिकायत करने थाने लेकर आई। मैंने थाने में शिकायत की है।

जीजा ने कुछ अश्लील फोटो, वीडियो भी बना लिए हैं। जिसे लेकर ब्लैकमेल करते हैं। जीजा ने भरोसा तोड़ा, उन्हें सजा दिलाना चाहती हूं। आरोपी को कोर्ट से सजा की गुजारिश करती हूं, ताकि जीवनभर उन्हें उनके कुकर्मों की सजा मिले।

वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करता रहा

आरोपी कुलदीप नाहर बुधनी में रहता है। वो नगर परिषद बुदनी में सरकारी कर्मचारी है। आरोपी को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि जब मैंने जीजा की हरकतों का विरोध किया, तो उसने कहा कि मैंने तुम्हारा वीडियो बना लिया है। तुम्हारे परिवार की इज्जत मिट्‌टी में मिला दूंगा। मुझसे छोटी बहन पर भी उनकी नजर थी। मुझे वीडियो वायरल करने की धमकी देकर डराते रहते थे।

कहते थे कि तुम्हारी छोटी बहन के साथ भी वहीं करूंगा, जो तुम्हारे साथ किया है। पीड़िता ने बताया कि उसके जीजा का एक दोस्त है। जो सागर में देवरी का रहने वाला है। वह झाड़ फूंक करता है। छात्रा को आरोपी एक बार इसी दोस्त के पास भूत-प्रेत का साया दूर करने के लिए अनुष्ठान कराने की बात कहकर ले गया था। दोस्त ने पीड़िता के साथ संबंध बनाने की बात कही थी, लेकिन आरोपी ने उसे मना कर दिया।

पुलिस ने आरोपी कुलदीप नाहर को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने आरोपी कुलदीप नाहर को गिरफ्तार कर लिया है।

दरगाह पर देते थे भभूत और गेहूं

छात्रा ने बताया कि आरोपी जीजा कई बार उसे भूतों के साए से निजात दिलाने के लिए दरगाह पर ले गया। वहां घंटों तंत्र-मंत्र से भूत भगाने का प्रपंच किया जाता। जब वहां से लौटने लगती तो मुट्‌ठी में भरकर भभूत और गेहूं दिया जाता था। इस गेहूं को समय-समय पर चबाने के लिए कहा जाता था। वहीं भभूत का टीका लगाकर उसे प्रसाद के रूप में ग्रहण करने के लिए कहा जाता था। कई महीने से छात्रा खुद को बीमार महसूस कर रही थी, इसलिए उसने वो सबकुछ किया, जो तांत्रिकों ने बताया।

पीड़िता ने कहा- सजा दिलाकर ही दम लूंगी

छात्रा ने कहा- मेरे माता-पिता किसी तरह हम तीन बहनों और भाई का पेट पाल रहे हैं। मैं तो अपनी मौसी की बेटी के पास पूरे विश्वास के साथ गई थी, लेकिन वहां जाकर मेरी जिंदगी के साथ ऐसा खिलवाड़ शुरू हुआ, जिसकी कल्पना भी नहीं की थी। एक शातिर अपराधी की तरह जीजा ने मुझे ऐसे जाल में फंसा दिया है, जहां से निकलना मेरे लिए मुश्किल हो गया है। उसे सजा दिलाने के लिए जहां भी मुझे जाना पड़े, जाऊंगी। मैं उसे सख्त से सख्त सजा दिलाकर ही दम लूंगी। शनिवार को उसे पुलिस बुधनी से नसरुल्लागंज कोर्ट ले गई। जहां धारा 164 के तहत उसका बयान दर्ज किया गया है, ताकि केस में चालान पेश होने में आसानी हो पाए।

बहन ने भी आरोपी जीजा का साथ दिया

छात्रा ने बताया- एक दिन मैंने अपने साथ हुई ज्यादती की पूरी कहानी दीदी को बता दी, लेकिन उन्होंने मुझे ही गलत बता दिया। मुझे नहीं पता था, जिसे दीदी बोलती हूं, वही गलत होने पर साथ नहीं देगी। कई बार तो सबकुछ जानते हुए भी मुझे घर में अकेला छोड़कर दीदी बाहर चली जाती थी। इस दौरान उसका पति मेरे साथ गलत करता रहता था। मुझे भरोसा ही नहीं होता कि कोई महिला कैसे अपने पति की गलत हरकतों का विरोध करने की बजाय, उसका साथ दे सकती है।

FIR में पीड़िता ने यह आरोप लगाया

बुधनी थाने में दिए आवेदन में पीड़िता ने 30 जुलाई 2022 से लेकर 30 अप्रैल 2023 के बीच अपने साथ कई बार शोषण की बात कही है। किसी को बताने की स्थिति में जान से मारने की धमकी देने का भी आरोप कुलदीप नाहर पर लगाया है। पीड़िता की शिकायत के आधार पर पुलिस ने धारा 376(2)(N) और 506 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। कोई भी ऐसा व्यक्ति जो किसी दूसरे व्यक्ति को जान से मारने की धमकी देता है या उसकी किसी संपत्ति को नष्ट करने की धमकी देता है अथवा किसी महिला के चरित्र व सम्मान को दोष देकर आरोप लगाता है, तो उसके खिलाफ धारा 506 के तहत कार्रवाई की जाती है।

12वीं के बाद नहीं कर सकी पढ़ाई

पीड़िता ने बताया कि उसने 12वीं पास कर ली है। पिछले साल ही आगे की पढ़ाई के लिए भोपाल के कॉलेज में एडमिशन लेना था, लेकिन 4 दिन के लिए बुधनी घूमने आई और सबकुछ तबाह हो गया। यहां आकर ऐसी साजिश में फंसी कि अभी तक बाहर नहीं निकल पाई। उसने कहा- मैं कॉलेज की पढ़ाई करना चाहती थी। एडमिशन लेने की तैयारी कर रही थी, इसी बीच ये सब मेरे साथ हो गया। पढ़ाई तो बर्बाद हुई ही मेरी जिंदगी भी तबाह हो गई।

9 महीने से मां भाई-बहनों को लेकर बुधनी में रह रही

पीड़िता की मां ने बताया- बेटी के साथ ज्यादती की सूचना मिलने के बाद पिछले ही साल अगस्त में बुधनी आई। यहां किराए पर एक कमरा लिया और बेटी को इस दलदल से निकालने की राह तलाश रही हूं। अपने साथ सभी बच्चों को लेकर यहां रहना पड़ रहा है। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने की वजह से यहां रहकर बेटी के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़नी पड़ रही है। अब कानून पर ही भरोसा है। जब तक बेटी को न्याय नहीं मिलेगा, तब तक यहां से नहीं जाऊंगी।

अंधविश्वास का डर दिखाकर किया शोषण

बुधनी थाना के निरीक्षक विकास खिची ने बताया कि पीड़िता ने बताया है कि वो पिछले साल अपनी मौसी की बेटी के घर आई थी, उसका पति कुलदीप नाहर तांत्रिक है। कुलदीप झाड़फूंक करता है। बुधनी आने के 15 दिन बाद ही पीड़िता की तबीयत बिगड़ गई थी। इसके बाद आरोपी उसे लेकर दरगाह पर गया था। आरोपी भूत-प्रेत का झांसा देकर पीड़िता के साथ संबंध बनाता रहा। अंधविश्वास का डर दिखाकर पीड़िता का शोषण किया गया है। अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया है। आरोपी भी गिरफ्तार हो गया है।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *