Sat. Jun 22nd, 2024

[ad_1]

जबलपुर22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जबलपुर पुलिस ने जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हुई चोरी और नकबजनी की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने अंतर्राजीय चोर गिरोह के पति, पत्नी और साली समेत 2 शातिर नकबजनों को गिरफ्तार किया है। जिनके कब्जे से 15 लाख रुपए कीमत के जेवरात बरामद किए गए हैं।

पुलिस अधीक्षक तुषार कांत विद्यार्थी ने कंट्रोल रूम में आयोजित पत्रकार वार्ता में जानकारी देते हुए बताया कि अंतर्राजीय चोर गिरोह में एक युवक उसकी पत्नी और साली शामिल हैं। जो कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में घूम-घूम कर चोरी और नकबजनी की घटनाओं को अंजाम देते थे। मामले का खुलासा गोसलपुर में सोने-चांदी का काम करने वाले व्यापारी के साथ हुई धोखाधडी से हुआ। जहां व्यापारी की दुकान पर आए पति-पत्नी और साली ने व्यापारी को नकली सोना देकर व्यापार करने के लिए उससे कुछ रुपए उधार ले लिए और जब सोना नकली निकला तो व्यापारी ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

व्यापारी की शिकायत पर पुलिस द्वारा पति-पत्नी और साली को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई। जिसमे सिहोरा, खितौला और मझगवां थाना क्षेत्रों में हुई चोरी भी आरोपियों ने कबूल की हैं।

पति-पत्नी और साली की यह गैंग दौसा राजस्थान की रहने वाली है और जबलपुर समेत शहडोल और और अन्य जिलों में भी चोरी की वारदात को अंजाम देती थी। साथ ही पुलिस ने शहर में चैन स्नेचिंग और चोरी जैसी घटनाओं को अंजाम देने वाले दो शातिर चोरों को भी गिरफ्तार किया है। जिनके पास से चोरी और नकबजनी के जेवर जब्त हुए हैं। फिलहाल पुलिस ने पकड़े गए सभी चोरों से अन्य चोरी की वारदातों को सुलझाने के लिए सख्ती से पूछताछ कर रही है।

इस प्रकार घटना को देते थे अंजाम-

थाना गोसलपुर में 2 जून को अनुराग सोनी उम्र 30 वर्ष निवासी गोसलपुर ने शिकायत की थी कि वह सोने चांदी के ज्वेलरी का व्यपार करता है। उसकी दुकान नैना ज्वेलर्स के नाम से गांधीग्राम मे स्थित हैं। 29 मई को दोपहर करीब 12 बजे उसकी दुकान में एक पुरूष दो महिलाओं के साथ आया और बोला कि हम लोग राजस्थान के रहने वाले हैं, प्लास्टिक की कुर्सी और टब सिहोरा और उससे लगे गावों मे बेचते हैं। मुझे प्लास्टिक का और माल उठाना हैं और पैसो की जरूरत हैं हमारे पास एक सोने का पनवा हैं जिसका वजन करीब 15 ग्राम हैं आप इसे रख कर 25 हजार रूपये दे दो हम फेरी लगाकर माल बेचकर कुछ दिनों मे इसे उठा लेंगे।

तब दुकानदार ने उनके आधार कार्ड देखें। उसमे पुरूष का नाम सुभाष पिता जुग्गूलाल और महिलाओं के नाम मायावती व गुड्डी बाई लिखा हुआ था। आधारकार्ड से उनके चेहरे भी मिल रहे थें। तब उसने सुभाष नायक द्वारा दिये गये पनवे को तेजाब लगाकर चेक किया। तब पहले पनवे सोना सा प्रतीत हुआ। बाद मे वह पनवे को टंच कराने जबलपुर लेकर गया तो पता चला कि सोने की पतली परत मात्र उस पनवे मे निकली और अंदर से चांदी का था। तब उसे एहसास हुआ कि उसके साथ तीनों ने मिलकर धोखाधड़ी की हैं।

पुलिस ने कई ठिकानों पर दबिश दी; तीनों को किया गिरफ्तार

गांधीग्राम बुढ़ागर मे दबिश देते हुये अनुराग सोनी के साथ धोखाधड़ी करने वाले ग्राम इंदावा जिला दौसा राजस्थान का रहने वाले सुभाष नायक पिता जुग्गा लाल नायक उम्र 45 साल अपनी पत्नी गुड्डी नायक पति सुभाष नायक उम्र 40 साल और रिश्ते की बहन मायावती नायक को पकड़ा गया। तीनों ने पूंछताछ करने पर अनुराग सोनी के साथ 25 हजार रूपए की धोकाधड़ी करना स्वीकार किया। तीनों को थाने लाकर सघन पूछताछ की गई तब पता चला कि ग्राम ब्यौहारी जिला शहडोल मे भी इसी तरह की धोखाधड़ी करना स्वीकार किया। वहीं आरोपी सुभाष नायक ने गोसलपुर अंतर्गत ग्राम गांधीग्राम मे 2 घरों मे, थाना सिहोरा क्षेत्र केे 3 घरों में, थाना खितौला क्षेत्र केे 1 घर मे और थाना मझगंवा क्षेत्र केे 3 घरो में चोरी करना स्वीकार किया।

इन 6 आरोपियों को किया गया गिरफ्तार

  • सुभाष नायक पिता जुग्गा लाल नायक उम्र 45 वर्ष निवासी ग्राम इंदावा जिला दौसा राजस्थान।
  • गुड्डी नायक पति सुभाष नायक उम्र 40 वर्ष निवासी ग्राम इंदावा जिला दौसा राजस्थान।
  • श्मायावती नायक पति पप्पू राम नायक वर्ष 50 निवासी ग्राम इंदावा जिला दौसा राजस्थान।
  • राम अनुज जायसवाल उर्फ शुभम जायसवाल पिता श्यामजीत जायसवाल उम्र 26 वर्ष निवासी-एच.पी. गैस एजेंसी के सामने किसानी मोहल्ला थाना बरेला।
  • कन्हैया सोनी पिता कमल सोनी उम्र 30 वर्ष निवासी सोनू किराना दुकान के सामने राजीव नगर चेरीताल कोतवाली।
  • हिमांशु उर्फ सीताराम पटेल पिता स्व.पारस पटेल उम्र 19 वर्ष निवासी शहपुरा भिटौनी थाना शहपुरा हाल मीत चौराहा न्यू शास्त्री नगर थाना तिलवारा।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *