Sun. May 26th, 2024

[ad_1]

पिपरिया2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पिपरिया शहर से सटे ग्राम हथवास की इंदिरा कॉलोनी से लगे रिहायसी इलाके के खेत में रविवार शाम को आग लग गई। खेत में गेहूं कटाई के बाद नरवाई खड़ी थी।। आग फैलते देख नागरिकों और खेतों में खड़ी गेहूं की फसल के मालिकों में हड़कंप मच गया। नरवाई जली या जलाई गई इसे राजस्व विभाग ने जांच में लिया है।

खेतों में भड़कती आग बुझाने के लिए किसानों ने ट्रैक्टरों से दवा सीचने वाली टंकियों में पानी भरकर पंप से आग पानी छिड़का। नगर पालिका को आगजनी की सूचना दी। कुछ समय बाद फायर ब्रिगेड का अमला माैके पर पहुंच गया। हल्का पटवारी मनीष गिरी ने बताया कि नरवाई में आग लगी थी। सूचना पर फायर बिग्रेड ने मौके पर पहुंच पानी की बौछार कर भड़कती आग को काबू कर लिया है। आग कैसे लगी इसकी जांच की जा रही है। नागरिकों के बयान भी दिए जा रहे हैं। आग पर समय रहते काबू पा लिया गया, नहीं तो आसपास कई खेतों में गेहूं की फसल अभी कटने के लिए खड़ी है, उसे नुकसान हो सकता था।

मूंग लगाने खेत साफ करने लगाते हैं आग

नरवाई की आग से जनधन की हानि होती है। फसलें राख हो जाती है इसे लेकर प्रशासन ने नरवाई को जलाना प्रतिबंधित किया है। बावजूद इसके गेहूं कटने के बाद किसान गर्मी की मूंग लगाने खेत साफ करने आग लगाकर शॉर्टकट रास्ता अपनाता है। यह अनेक लोगों के लिए परेशानी का कारण बन जाता है। पिछले सालों में नरवाई की आग से कई घर और लोग जल चुके हैं। काफी संख्या में खड़ी गेहूं की फसल भी राख हो चुकी है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *