Sun. May 26th, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Katni
  • Negligence In Work And Did Not Respond To Notice, Collector Sent Proposal For Action To Principal Secretary

कटनी29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जल जीवन मिशन सहित स्कूलों और आंगनवाड़ियों में नल कनेक्शन लगाने के कार्य में लापरवाही का मामला सामने आया था। इस पर कलेक्टर अवि प्रसाद ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग तत्कालीन कार्यपालन यंत्री एसएल कोरी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का प्रस्ताव लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी विभाग भोपाल के प्रमुख सचिव को भेजा है।

प्रस्ताव के माध्यम से कहा गया कि तत्कालीन कार्यपालन यंत्री एसएल कोरी जो वर्तमान मे बेगमगंज जिला रायसेन में पदस्थ है। उनके कटनी पदस्थापना के दौरान उन्होंने स्कूलों और आंगनवाड़ी केंद्रों में तय समय-सीमा में नल-जल कनेक्शन देने के मामले में गंभीरता से कार्य नहीं किया।

इसकी वजह से अपेक्षा के अनुपात में कनेक्शन नहीं हो पाए। समय-समय पर वरिष्ठ अधिकारियों ने दिए निर्देशों के बाद भी अपने पदीय दायित्वों और कर्तव्यों का निर्वहन नहीं करते हुए आदेशों और निर्देशों की अवहेलना की। जिसके कारण शासन संचालित महत्वपूर्ण नल जल योजना के तहत प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त कार्यों को भी पूरा नहीं करवा सका।

कलेक्टर ने प्रस्ताव में कहा कि जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा के दौरान कतिपय ठेकेदारों ने कार्यादेश जारी होने के बाद भी निर्धारित समयावधि में कार्य पूरा नहीं किया। साथ ही 8 फरवरी को संभागायुक्त जबलपुर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जल जीवन मिशन की समीक्षा के दौरान तत्कालीन कार्यपालन यंत्री एसएल कोरी ने भ्रामक और गलत जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि कार्य प्रारंभ नहीं करने वाले ठेकेदारों के खिलाफ कार्रवाई के लिए पीएचई अधीक्षण यंत्री को पत्र भेजा गया है। लेकिन जब पत्र की कापी मांगी गई तो पत्र 10 फरवरी को प्रेषित होना पाया गया। वरिष्ठ अधिकारियों को भ्रामक जानकारी देने, उनसे झूठ बोलने जैसे पदीय कर्तव्यों के विपरीत कार्य के लिए 15 फरवरी को स्पष्टीकरण मांगा गया।

जिसका जवाब अब तक नहीं दिया गया। हरदुआ के नलजल योजना के कार्यों का निरीक्षण के दौरान वाटर सप्लाई के लिए डाले गए पाइप अमानक पाए गए। जिसके कारण पेयजल आपूर्ति ठीक तरीके से नहीं हो पा रही है। इस संबंध में 11 अप्रैल को पत्र जारी कर जवाब मांगा गया। लेकिन उन्होंने अब तक जवाब प्रस्तुत नहीं किया।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *