Thu. Jun 13th, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chhindwara
  • Said In Kamal Nath’s Stronghold Congress Discriminated Against South Indian States, BJP Government Linked With Mainstream

छिंदवाड़ा7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

छिंदवाड़ा पहुंचे केंद्रीय मंत्री एल मुरगन ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस ने हमेशा दक्षिण राज्यों को मुख्य धारा से अलग रखते हुए भेदभाव किया है, जबकि भाजपा सरकार ने हमेशा इन राज्यों को मुख्य धारा से जोड़ते हुए सांस्कृतिक विकास भी किया है। मुरगन छिंदवाड़ा प्रवास पर है जहां उन्होंने स्थानीय पूजा लाज में दक्षिण भारतीयों के सम्मेलन में यह बड़ा आरोप कांग्रेस पर लगाया है।

पूर्व सीएम कमलनाथ के गढ़ में उन्होंने सीधे तौर पर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा है कि भाजपा सरकार ने दक्षिण राज्यों को हमेशा जोड़कर रखा है जबकि कांग्रेस इन राज्यों के साथ भेदभाव करती रही है। दरअसल केंद्रीय मंत्री मुरगन को छिंदवाड़ा का प्रभारी बनाया गया है जिसके चलते वे छिंदवाड़ा पहुंचे थे जहां पर उन्होंने भाजपा संगठन की बैठक भी ली तथा आगामी चुनाव को लेकर आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। इस दौरान कार्यक्रम में भाजपा जिला अध्यक्ष बंटी साहू, शेषराव यादव, सहित अन्य भाजपा नेता मौजूद रहे।

केंद्रीय मंत्री मुरगन ने इस दौरान महावीर जयंती के अवसर पर गांधी गंज स्थित जैन मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया जिसके बाद वे गायत्री शक्तिपीठ में 108 कुंडीय विराट गायत्री महायज्ञ में पहुंचे।

कलेक्ट्रेट में ली बैठक, मत्स्य आहार संयत्र का किया निरीक्षण

केंद्रीय मंत्री मुरगन ने भैसादंड में मत्स्य विभाग के मत्स्य आहार संयंत्र का निरीक्षण किया जहां उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मत्स्य मंत्रालय के माध्यम से वर्ष 2014 से अभी तक 9 वर्षों में बजट में बढ़ोतरी कर देश के मत्स्य विकास के लिये 40 हजार करोड़ रूपये का निवेश किया गया है ।

पहली बार प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत 20 हजार करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है और इस बजट में मिनी सब प्लान के अंतर्गत 6 हजार करोड़ रूपये का प्लान किया है। कुल मिलाकर इस क्षेत्र में 38 हजार करोड़ रूपये का निवेश किया गया है ।

मत्स्य विकास के क्षेत्र में हमारी प्राथमिकता अधोसंरचना विकास के लिये है जिसमें आहार संयंत्र, स्टोरेज, आईस फेक्ट्री, प्रोसेस यूनिट आदि का निर्माण प्रमुख है ।

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत मछुआरों को जहां ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है, वही 60 प्रतिशत अनुदान देकर विभिन्न गतिविधियों को प्रारंभ किया गया है ।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *