Sun. May 26th, 2024

[ad_1]

इंदौर4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इंदौर के आजाद नगर में रहने वाले एक ड्रायवर ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। रात में छोटा भाई उसे शादी में ले जाने के लिये कमरे पर पहुंचा तो वह फंदे पर लटका था। परिवार के लोगो ने ससुर ओर पत्नी पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।
आजाद नगर पुलिस के मुताबिक दिनेश(39)पुत्र मांगीलाल नागर निवासी शिवनगर ने अपने घर में फांसी लगाकर जान दे दी। दिनेश को रात में भाई लखन ने फंदे पर लटके देखा था। रिश्तेदारों ने बताया कि दिनेश के उज्जैन कोर्ट में दहेज प्रताड़ना ओर घरेलू हिंसा के केस की तारीख थी। शाम को वह यही से वापस आया था। जिसके बाद संभवत उसने यह कदम उठा लिया।
पत्नी जाॅब करना चाहती थी,पढ़ाया,नर्स बनी तो छोड़ दिया
रिश्तेदारो ने बताया कि दिनेश की शादी को करीब 17 साल हो गए। पत्नी मनीषा थोड़ी पढ़ी लिखी थी। बच्चे होने के चलते उसने जाॅब करने की बात कही। दिनेश ने उसकी इंदौर से पढ़ाई पूरी करवाई। इसके बाद नर्सिग का कोर्स करने धार भेजा। यहां से पढ़ाई पूरी करने के बाद वह इंदौर के निजी अस्पताल में जॉब करने लगी। उसने पति की ड्रायवरी की जाॅब से खुद को दूर करने की बात कही। पति ने ओर कोई काम से इंकार किया तो वह उसे छोड़कर अपने बच्चों को लेकर पालदा इलाके में रहने चली गई।
ससुर ओर पत्नी पर प्रताड़ना का आरोप
दिनेश ने इसके बाद पत्नी मनीषा पर वापस साथ रहने का दबाव बनाया। उसने इस बात से इंकार कर दिया। इसके बाद उसने उज्जैन में अपने पिता पप्पू राठौर से बात कर दिनेश के खिलाफ केस लगा दिया। दिनेश जब उज्जैन जाता तो उसे यहां धमकियां देते थे। जिसके कारण वह काफी तनाव में रहने लगा। बुधवार को भी वह इसी केस में उज्जैन गया था।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *