Thu. Jun 13th, 2024

[ad_1]

सतना10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

उचेहरा के गोपाल मंदिर छोटा अखाड़ा में चल रहे शतचंडी यज्ञ की पूर्णाहुति श्रीराम राज्याभिषेक की कथा के साथ शुक्रवार को हो गई। श्रद्धालुओं ने बड़ी संख्या में उपस्थित हो कर यज्ञ वेदी में आहुतियां समर्पित की और यज्ञ मंडप की परिक्रमा कर श्रीराम कथा का रसपान किया।

शुक्रवार की सुबह यज्ञाचार्य अजय शास्त्री, आचार्य संदीप, आचार्य धर्मेंद्र एवं आचार्य प्रदीप ने जगदजननी मां दुर्गा का पूजन-अर्चन कराया। मंत्रोच्चार के साथ यज्ञ वेदी में आहुतियां समर्पित कराईं। दोपहर में शतचंडी यज्ञ की पूर्णाहुति में राज परिवार के सदस्य कृष्णदेव सिंह केडी समेत बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने आहुतियां समर्पित कर मां भगवती की कृपा प्राप्ति की कामना की। भक्तों ने माता की आरती उतारी और यज्ञ मंडप की परिक्रमा की।

श्रीराम राज्याभिषेक के साथ कथा विश्राम

श्रीमदबाल्मीकि राम कथा में कथा व्यास आचार्य गोकरण ने श्रद्धालुओं को माता सीता, भ्राता लक्ष्मण और परम भक्त हनुमान के साथ अयोध्या आगमन की कथा सुनाई। उन्होंने भगवान के आगमन पर अयोध्या के अलौकिक दृश्य का वर्णन करते हुए बताया कि इस दिन ऐसा लग रहा था जैसे तीनों लोकों का सौंदर्य अयोध्या की भूमि में उतर आया है। देव, गंधर्व, ऋषि-मुनि, नर- नारी सभी आनंदित थे।

कथा व्यास ने श्रद्धालुओं को श्रीराम नाम का स्मरण करते हुए धर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा दी। उन्होंने कहा श्रीराम नाम ही वह शक्ति है जो भव सागर से पार लगाती है,सारे कष्ट- संताप का हरण करती है। प्रभु की भक्ति और उन पर विश्वास ही जीवन मे सफलता प्राप्ति का सबसे बड़ा मार्ग है। श्रीराम राज्याभिषेक की कथा के साथ कथा का विश्राम हुआ।

बता दें कि गोपाल मंदिर उचेहरा में छोटा स्थान सोहावल के पूर्वाचार्य गोलोकवासी स्वामी डॉ रमागोविंदाचार्य महाराज के उत्तराधिकारी आशुतोष अनंतप्रपन्नाचार्य के सानिध्य में सर्वजन हिताय यह धार्मिक अनुष्ठान जनसहयोग से किया गया। आयोजन में छत्रसाल सिंह जू देव ने विशेष सहयोग प्रदान किया।

कार्यक्रम में कृष्णदेव सिंह केडी, नगर पंचायत अध्यक्ष निरंजन प्रजापति, टीआई डीआर शर्मा, रीतेश त्रिपाठी, रूपेश त्रिपाठी, गोविंद नारायण मिश्रा, केजी शर्मा बबला, संपत मिश्रा, ऋषव त्रिपाठी, रामचन्द्र ताम्रकार, मुन्ना ताम्रकार, उदेश ताम्रकार, राकेश ताम्रकार, उमेश गौतम, दीपांशु समदरिया, जया मौर्या, अंजना ताम्रकार, रूपकुमार हरबोल, हिमांशु, अजय, आदित्य, शिवांक, डॉ सुशील गुप्ता, सुधीर पांडेय, अमित उरमलिया, प्रेम कुमार तिवारी उपस्थित रहे।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *