Sun. Jun 23rd, 2024

[ad_1]

श्योपुर39 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जिला अस्पताल में दो माह पहले लोगों को कतार से निजात दिलाने के नाम पर क्यू मैनेजमेंट सिस्टम यानि टोकन सुविधा शुरू की गई। इसकी शुरुआत के समय अस्पताल प्रबंधन ने दावा किया था कि मशीन से टोकन लेने के बाद मरीज को पर्चा बनवाने से लेकर डॉक्टर को दिखाने और दवा लेने के लिए क्यू (कतार) में खड़ा नहीं होना पड़ेगा, उसे आवाज लगाकर बुला लिया जाएगा, लेकिन जिला अस्पताल की दूसरी सुविधाओं की तरह यह व्यवस्था भी जिला अस्पताल की दोनों टोकन मशीन बंद होने से फैल साबित हुई है।

नतीजा लोगों को अस्पताल में दिखाने के लिए लाइन में लगने को विवश होना पड़ रहा है। याद रहे कि जिला अस्पताल में क्यू मैनेजमेंट सिस्टम की शुरुआत दो महीने पहले हुई। इसके लिए शासन की ओर से बाकायदा 2 टोकन मशीन भोपाल से खरीदकर जिला अस्पताल में भेजी गई।

इसके अलावा डॉक्टरों के नाम आदि दिखाने के लिए 2 एलईडी, टोकन नंबर दिखाने के लिए डिस्प्ले सहित रिमोट कंट्रोल भी दिए थे, जो डॉक्टरों के पास रखे गए थे, पर यह व्यवस्था संचालित नहीं हो सकी। बताया गया है कि जिला अस्पताल में बंद पड़ा यह टोकन सिस्टम किसी अधिकारी के निरीक्षण को जाने के दौरान शुरू कर दिया जाता है, पर उनका निरीक्षण होते ही इसे फिर से बंद कर दिया जाता है।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *