Thu. Jun 13th, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Katni
  • Case Of Fire In The New Building Of The District Hospital, Response Sought From The Executive Engineer As Well

कटनीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कटनी जिला अस्पताल परिसर में बनाए गए नए भवन के मैटरनिटी चाइल्ड केयर यूनिट कक्ष में आग लगने के मामला सामने आया था। इसकी जांच में दोषी पाए गए सिविल सर्जन डाॅ. यशवंत वर्मा के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई किए जाने के लिए कलेक्टर अवि प्रसाद ने संभाग आयुक्त को पत्र लिखा है।

साथ ही आगजनी की घटना रोकने संबंधी सुझावों के आधार पर सिविल सर्जन को कमियों को दूर कर व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए कहा गया है। कलेक्टर ने इसी मामले में लोक निर्माण विभाग पीआईयू के कार्यपालन यंत्री को नोटिस जारी कर तीन दिन जवाब मांगा है।

काम में लापरवाही बरतने से हुआ था हादसा

घटना की जांच में यह तथ्य सामने आया था कि जिला अस्पताल के सिविल सर्जन ने 22 सितंबर 2022 को भवन में फायर सेफ्टी उपकरण लगाने के पत्र लिखा था। बावजूद इसके भवन हस्तांतरण संबंधी सभी कार्रवाई पूरी होने के बाद भी सिविल सर्जन को भवन संबंधी एक भी अभिलेख और उपकरण उपलब्ध नहीं कराए गए। साथ ही फायर एनओसी के लिए आवश्यक अभिलेख भी नहीं उपलब्ध कराए गए।

इसके बाद जिला अस्पताल में आगजनी की घटना हो गई। जिस पर कलेक्टर लोक निर्माण विभाग पीआईयू के कार्यपालन यंत्री केपी कुजूर कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने पर कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिन में जवाब प्रस्तुत करने कहा गया है।

जांच रिपोर्ट के आधार पर निर्देश

जांच टीम ने जिला अस्पताल में फायर सेफ्टी सिस्टम उपलब्ध नहीं होने, प्रशिक्षित विद्युत कर्मी नहीं होने और विद्युत उपकरणों का समय-समय पर रख रखाव नहीं होने की रिपोर्ट प्रस्तुत की गई है। जांच टीम की रिपोर्ट के आधार पर कलेक्टर ने डॉ. यशवंत वर्मा को जिला अस्पताल में योग्य और प्रशिक्षित विद्युत कर्मी को विद्युत प्रबंधन की जिम्मेदारी सौंपने, फायर सेफ्टी सिस्टम उपलब्ध रखने और विद्युत उपकरणों का समय-समय पर रखरखाव करने के लिए कहा है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *