Sun. May 26th, 2024

[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Neemuch
  • Neemuch Babu Anil Goyal Suspended In The Case Of Servant Suicide In Manasa BRC Office – Absconding After Applying Medical After The Case Was Registered In The Police Station

नीमच32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मनासा के बीआरसी केंद्र पर कार्यरत कर्मचारी अर्जुन पिता जगदेव सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले में जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) ने कार्यालय के बाबू अनिल गोयल को निलंबित कर दिया है। मामले में आरोपी गोयल मनासा थाने पर प्रकरण दर्ज होने के बाद से मेडिकल लगा कर फरार हो गया। अनिल की गिरफ्तारी होने पर राजनीतिक दबाव की बाजार में चर्चा हो रही है। हालांकि पुलिस जल्द गिरफ्तारी की बात कह रही है।

बता दें कि मनासा बीआरसी केन्द्र के भृत्य कर्मचारी अर्जुन पिता जगदेवसिंह राजपुत (54) निवासी रामपुरा लंबे समय से कार्य करते थे। 8 जून को अुर्जन ने मनासा बीआरसी केन्द्र में आंवले के पेड़ पर फांसी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली थी। मृतक के जेब से थाना प्रभारी मनासा के नाम सुसाइड नोट मिला, जिसमें मृतक ने जिला शिक्षा अधिकारी के बाबू अनिल गोयल पर 60 हजार रूपए लेने के बावजूद लंबे समय से अटकी 10 से 12 लाख एरियर की राशि नहीं दिलवाने का आरोप लगाया था। वहीं, आरोपी पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।

मामले में मनासा पुलिस ने जांच के बाद करीब एक सप्ताह पहले ही सुसाइड नोट के आधार पर प्रकरण दर्ज कर किया था। हैरानी की बात है कि पुलिस के प्रकरण दर्ज करने से पहले अनिल को इसकी जानकारी मिल गई व अनिल मेडिकल लगा कर फरार हो गया।

सूत्रों की माने तो अनिल गोयल ने अग्रिम जमानत की अर्जी भी लगाई लेकिन वह भी खारीज हो गई। गोयल अभी फरार चल रहा है। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जिला शिक्षा अधिकारी को आवेदन देते हुए जानकारी दी व अभियोजन स्वीकृति मांगी। पुलिस के आवेदन पर जिला शिक्षा अधिकारी सीके शर्मा ने बुधवार को कर्मचारी अनिल गोयल के निलंबन के आदेश जारी कर दिए। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

बाजार में इस तरह की चर्चा हो रही

आत्महत्या के बाद करीब दो दिन कर्मचारी जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में व उसके बाद क्रमांक दो में काम पर आता रहा। लेकिन पुलिस के प्रकरण दर्ज करने से पहले ही आरोपी मेडिकल लगा कर फरार हो गया। यह बाजार में चर्चा का विषय बना हुआ है।

चर्चा यह भी है कि राजनीतिक दबाव के चलते पुलिस अनिल को गिरफ्तार नहीं कर रही। हालांकि मामले में टीआई आरसी दांगी ने कहा कि दबाव जैसी कोई बात नहीं है। आरोपी फरार हो गया है तो उसकी तलाश जारी है। अग्रिम जमानत का आवेदन भी खारिज हो गया है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लेंगे।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *